15 Jun 2018

Get Rid of Alcohol Addiction (शराब की लत से छूटकारा पाए)



कभी खुशी, कभी गम, कभी थकान तो कभी आराम, पीने वाले शराब पीने का मौका खोज ही लेते हैं. पीते ही इंसान का मूड बदल सा जाता है, कुछ लोग ज्यादा बात करने लगते हैं । शराब की घूंट मुंह में जाते ही दिमाग और शरीर पर बेहद अलग असर होने लगता है,जिससे इंसान का तौर-तरीका बदल जाता है ।

विज्ञान के मुताबिक, "लीवर पहला मुख्य स्टेशन है,इसमें ऐसे एन्जाइम होते हैं जो अल्कोहल को तोड़ सकते हैं" यकृत यानी लीवर हमारे शरीर से हानिकारक तत्वों को बाहर करता है,अल्कोहल भी हानिकारक तत्वों में आता है,लेकिन यकृत में पहली बार पहुंचा अल्कोहल पूरी तरह टूटता नहीं है । कुछ अल्कोहल अन्य अंगों तक पहुंच ही जाता है,
वैज्ञानिक कहते हैं, "यह पित्त, कफ और हड्डियां तक पहुंच जाता है, यहां पहुंचने वाला अल्कोहल कई बदलाव लाता है" । अल्कोहल कई अंगों पर बुरा असर डाल सकता है या फिर 200 से ज्यादा बीमारियां पैदा कर सकता है ।

शराब एक ऐसी बुरी आदत होती है जिसके कारण घरो में हर तरह के क्लेश होते रहते है और लोग कभी भी एक अच्छा जीवन नहीं जी सकते है । इसलिए शराब को छोड़ना सभी के लिए बहुत ही जरूरी हो गया है,वेसे भी देखा गया है की शराब के नशे में होने के कारण हर साल लगभग 20 से 30 लाख लोग अपनी जान गवा बैठते है,आंकड़ो के अनुसार देखा गया है की विश्व भर में हर 20 मौतों में से 1 मौत शराब के कारण ही होती है । अगर आप हफ्तेभर शराब का सेवन करते हैं तो आपके लिये आने वाला समय काफी कठिन बनने वाला है क्योंकि अभी तो शायद आपको काफी मज़ा आ रहा होगा लेकिन जब बाद में शराब की वजह से आपके अंग खराब हो चुके होंगे, तब आप यह बात अवश्य समझेंगे।

शराब में कैंसर पैदा करने वाले गुण होते हैं। स्टडीज़ में पाया गया है कि सीधे तौर पर कैंसर का खतरा पैदा करता है। आप इसको नियमित रूप से पियें या कभी कभार, यह सिर और गले, लिवर, स्तन और कोलोरेक्टल आदि कैंसर को बढ़ावा देती है। शराब दिमाग से निकलने वाले हार्मोन का लेवल कम कर देती है। यह वही हार्मोन होता है जो हमें अच्छा महसूस करवाता है। शराब कुछ देर के लिये तो मूड को बेहतर बनाती है लेकिन बाद में यह हमें अवसाद के घेरे में ढकेल देती है।

लंबे समय तक शराब के सेवन से दिमाग सोंचने-समझने तथा निर्णय लेने की क्षमता खो बैठता है। इसके अलावा डिमेंशिया नामक बीमारी हो जाती है जिसमें व्यक्ति अपनी याददाश धीरे धीरे खोने लगता है। रिसर्च के माध्यम से पता चला है कि ज्यादा शराब के सेवन से दिल की मासपेशियां कमजोर पड़ने लगती हैं, जिससे हृदय तक पहुंचने वाला रक्त सही गति से उस तक नहीं पहुंच पाता। इसके आलावा इससे हार्ट अटैक, स्ट्रोक और हाई बीपी भी हो सकता है।

आज के समय मे शराब के वजेसे कई घर बरबाद हो चुके है,लोग सब कुछ बेचकर शराब के चक्कर मे भिकारी हो गए,कई मासूम बच्चे अनाथ हो गए, औरते विधवा हो गयी तो कुछ औरतो का तलाक हो गया,जो महिलाएं शराब पीती थी वो बाँझ हो गयी । इस विषय पर जितना भी लिखो उतना कम ही है ।
अभी बारिश का मौसम शुरू हो गया है और इसी मौसम में कुछ विशेष जड़ी-बूटियों जन्म ले रही है,इन जड़ी-बूटियों में इतना क्षमता है के अच्छे से अच्छा और बड़े से बड़ा शराबी भी मात्र 6-7 दिनों तक आयुर्वेदिक दवा का सेवन करके शराब पीने से मुक्त हो सकता है । इन जड़ी-बूटियों पर जब मंत्र का जाप किया जाता है तो यह जड़ी-बूटियां जाग्रत हो जाती है और अपना असर 100% दिखाती है । इन जड़ी-बूटियों से बनाई जाने वाली दवा शराब पीने वाले व्यक्ति को चुपके से भी खिला सकते है,जैसे मान लीजिए घर मे कोई सब्जी बनी हो तो उसमें मिला दे या फिर चाय में मिला दो या रोटी में मिला दो और इसको शराब में भी मिला सकते है । इस दवा से किसी भी तरह का खुशबू या बदबू नही आता है,इस दवा स्वाद ही नही होता है,मीठे में मिलाओ तो मीठा और तीखे में मिलाओ तो तीखा ही स्वाद होगा । दवा का रंग ऐसा है के जो भी खाने पीने के चीज में मिलाओगे वही रंग रहेगा जो खाने पीने के चीज का है और 100% इस दवा से शराब मुक्ती होती है ।

आप शराब पीने वाले व्यक्ति को सवेरे से लेकर दोपहर तक दिन में एक पुड़िया दवा खिला दो या फिर पिला दो,उसके बाद जैसे भी वह शराब पियेगा तो उसको थोड़ा-बहोत तकलीफ होगा जैसे सर में दर्द,ज्यादा नशा होगा या फिर गले मे थोडासा दर्द हो सकता है । इस दवा का असर पहिले ही दिन से दिखाई देता है और 6-7 दिनो में 100% शराब छूट जाती है,आप खुद शराब पीने वाले को 6-7 दिन दवा
खिलाने के बाद उसको शराब पीने के लिए कहोगे तो वह आप पर घुस्सा हो जाएगा,अगर उसको शराब का बॉटल दे दो तो वह उस बॉटल को फेक देगा या फिर तोड़ देगा,यह आयुर्वेदिक दवा इतना असरदार है । आज तक ऐसा कभी नही हुआ के यह दवा सेवन करने के बाद शराबी ने शराब पीना बंद ना किया हो और इस दवा का असर मृत्यु तक रहेता है ।

एक गरीब आदमी जब एक दिन में कम से कम 50 रुपये का शराब पीता होगा तो उसको एक वर्ष में 18,250/-रुपये खर्च आता है और एक साधारण आदमी जब 200 रुपए तक का शराब आसानी से रोज पीता है तो उसको 73,000/-रुपये का खर्च एक वर्ष में करना पड़ता है । यहां शराबियों को कपड़े खरीदने के लिये रुपये नही होते परंतु एक वर्ष में हजारों रूपया शराब पीने में बरबाद कर देते है । सोचो अगर कोई व्यक्ति दिन भर में 1000/- रुपये तक शराब में खर्च कर सकता है तो उसके परिवार को जीवन मे कितना सारा समस्याओं से लड़ना पड़ता होगा ?

जो महिलाएं अपने पती या बेटे का शराब छुड़वाना चाहते है या फिर शराब पीने वाला स्वयं शराब छुड़वाना चाहता है तो उसको सिर्फ इस जीवन मे 3650/-रुपये का खर्च करना पड़ेगा और मैं 100% गारंटी लेता हू के वह व्यक्ति 6-7 दिनों में शराब पीना हमेशा के लिए बंद कर देगा । शराब छुड़वाने के लिए 3650/-रुपए का खर्च कोई बहोत बडा कीमत नही है,ये खर्च जीवन मे एक ही बार करना है और जीवनभर के लिए शराब से मुक्त हो जाना है । रोज या फिर कभी कभी शराब पीने वाला व्यक्ति जब शराब पीना छोड़ देगा तब इसमे सबसे ज्यादा फायदा आपका ही है । बहोत सारा रुपया बचेगा जो शराब जैसे जहर को पीने में खर्च होता था,साथ ही स्वास्थ लाभ भी होगा और स्वास्थ बिगड़ने के बाद जो होनेवाला खर्च आपको भविष्य में करना था वह भी आपका खर्च बचेगा ।

बहोत सारे फायदे होंगे शराब मुक्ति से,मैं 100% गारंटी ले रहा हु के 6-7 दिनों में शराबी का शराब पीना बंद हो जाएगा जिंदगीभर के लिए ।

जो भी व्यक्ति "शराब मुक्ति आयुर्वेदिक दवा" प्राप्त करना चाहता है,वह हमसे ईमेल के माध्यम से संपर्क करे,मेरा ईमेल आई.डी.-

snpts1984@gmail.com


My whats app no.
+1 (270) 551-1006

आपको ईमेल करने पर ही कांटेक्ट नंबर दिया जाएगा, ताकि आपसे दवा प्राप्त करने से पूर्व ही पूर्ण वार्तालाप हो सके ।


आदेश.....